breaking news New

CGW 2018: हमें मिला एक और मेडल, दीपक लाथेर ने जीता ब्रॉन्ज

गोल्ड कोस्ट में यहा चल रहे 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स में वेटलिफ्टिंग में दीपक लाथेर ने 69 किग्रा कैटेगरी में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया है। फ़ाइनल राउंड में दीपक 4 किलो से गोल्ड मेडल जीतने से चूक गए.

आपको बता दें कि दिल्ली के रहने वाले 18 वर्षीय दीपक लाठर ने 69 किलोग्राम वर्ग में कांस्य पदक जीता। इसी कैटेगरी में गोल्ड मेडल वेल्स के गेरेथ एवांस ने अपने नाम किया। श्रीलंका के दिसानायके ने सिल्वर मेडल अपने नाम किया। एवांस ने जहां कुल 299 किलोग्राम भार उठाया तो वहीं दिसानायके (297) और दीपक ने कुल 295 किलोग्राम उठाया।

इससे पहले शुक्रवार को ही संजीता चानू ने गोल्ड जीत कर भारत को पदक तालिका में तीसरे नंबर पर पहुंचा दिया था। दीपक लाठर हरियाणा के जींद जिले के शादीपुर गांव के रहने वाले हैं। ब्रॉन्ज मेडल जीतने के बाद दीपक काफी भावुक।

गौरतलब है कि 18 वर्षीय दीपक हरियाणा के शादीपुर गांव के रहने वाले हैं। किसान परिवार में पैदा हुए दीपक ने 9 साल की उम्र में वेटलिफ्टिंग शुरू की। लाथेर ने 2 साल पहले कॉमनवेल्थ यूथ गेम्स में पर्दापण किया था।

दीपक ने कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप के यूथ (अंडर-17) 62किलोग्राम वर्ग में गोल्ड मेडल जीता। एशियन यूथ चैंपियनशिप में उन्होंने सिल्वर मेडल जीता और वर्ल्ड चैंपियनशिप में मेडल जीतने वाले भारत के सबसे युवा वेटलिफ्टर बन गए। 2016 में उन्होंने 62 किलोवर्ग में स्नैच का नैशनल रेकॉर्ड बनाकर 267 किलोग्राम भार उठाया और महज 15 साल की उम्र में सबसे युवा चैंपियन बने।