breaking news New

प्रेमी ने साथियों संग गला दबाकर मारा था नीलम को

ओमप्रकाश शर्मा
मोदीनगर।

पुलिस ने लगभग चार माह पहले हुए नीलम हत्याकांड का खुलासा करने का दावा किया है। प्रेम प्रसंग के चलते प्रेमी ने ही साथियों के साथ मिलकर नीलम की गला दबाकर हत्या कर शव जंगल में फेंक दिया था। पुलिस ने प्रेमी सहित पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त स्टोल, बाइक व कार आदि भी बरामद कर ली गई है।

सोमवार को गाजियाबाद में एक प्रेस वार्ता कर एसएसपी वैभव कृष्ण ने नीलम हत्याकांड से परदा उठाया। उन्होंने बताया कि 27 दिसंबर को मोदीनगर कोतवाली में कृष्णानगर निवासी यशपाल शर्मा ने अपनी बेटी नीलम (15) की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। 12 जनवरी को ग्राम अघेड़ी चौकी मोहिद्दीनपुर परतापुर मेरठ पुलिस को क्षेत्र के जंगल में एक किशोरी का शव मिला। शव की शिनाख्त नीलम के रूप में की गई।

शव की बरामदगी के बाद मामला पोक्सो एक्ट व हत्या में दर्ज किया गया। इस मामले में शक होने पर पुलिस ने सुमित को हिरासत में लेकर पूछताछ की, तो उसने बताया कि नीलम से उसका प्रेम प्रसंग था। वह उस पर शादी का दबाव बना रही थी और ऐसा न करने पर पुलिस को सूचना देने की धमकी दे रही थी। इसके चलते उसने नीलम को रास्ते से हटाने की ठान ली थी।

योजना के मुताबिक सुमित ने 26 दिसंबर को नीलम को अपने घर बुला लिया। वहां रात को उसने नीलम के साथ दुष्कर्म किया। अगले दिन अपने दोस्त आरिफ को बुलाकर उसकी बाइक पर नीलम को बैठाकर यह लोग उसे विजयनगर में राजीव के घर पर छोड़ आए।

शक होने पर पुलिस ने सुमित से कड़ाई से पुछताछ की, तो उसने सब कुछ उगल दिया। सुमित ने पुलिस को बताया कि 9 जनवरी को उसने सभी साथियों को अपने घर बुलाया। योजना के मुताबिक 10 जनवरी को स्विफ्ट गाड़ी से वह लोग विजयनगर राजीव के घर पहुंचे। वहां नीलम को साथ लेकर पूरे दिन अपने साथ घूमाया। रास्ते में मुरादनगर के पास उन्होंने शराब पी।

शाम को ग्राम अघेड़ा मोहिद्दीनपुर परतापुर मेरठ के पास उन्होंने नीलम की उसी के स्टोल से गला दबाकर हत्या कर दी और शव को वहीं जंगल में ईख के खेत में फेंक दिया। पुलिस ने आरोपियों की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त स्टोल, बाइक, स्विफ्ट कार व दो तमंचे मय कारतूस बरामद किए हैं।

पुलिस ने उक्त पांचों अभियुक्तों सुमित पुत्र रमेशचंद, रमेश पुत्र उदय सिंह व आरिफ पुत्र महबूब सभी निवासीगण गांव पैंगा थाना निवाड़ी, राजीव पुत्र सत्यवीर ग्राम करनावल सरुरपुर मरेठ तथा सोनू पुत्र रामकिशन निवासी नंगलामूसा थाना निवाड़ी को गिरफ्तार किया है। पुलिस की टीम में कोतवाली प्रभारी गजेंद्रपाल सिंह, क्राइंम ब्रांच के प्रभारी निरीक्षक दिनेश सिंह, कांस्टेबल कृष्ण कुमार, नीरज व राजेंद्र शामिल रहे।

0 Comments

Leave a Comment