breaking news New

मोदीनगर में लूट के पीड़ित युवक को पुलिस ने थाने से भगाया

ओम प्रकाश शर्मा
मोदीनगर । भले ही पुलिस लाख दावे करे क्राइम कंट्रोल के मगर वास्तविकता कुछ और ही है। पुलिस अपराधिक मामले दर्ज ही नहीं कर रही है। इसकी एक बानगी आज उस समय देखने को मिली जब लूट का शिकार हुआ युवक वारदात की रिपोर्ट लिखवाने थाने पहुंचा तो पुलिस ने उसकी रिपोर्ट लिखने की बजाए उसे फटकार लगा कर भगा दिया। बाद में काफी गुहार के बाद पुलिस ने मोबाइल गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज की। वाकया भगवान गंड मंडी का है।

गुरुनानकपुरा निवासी मंगू पुत्र नानक चंद डाक्टर मार्केट में एक पैथोलाजी लैब पर काम करता है। बुधवार सुबह वह अपने कार्य पर जा रहा था। बकौल मंगू तभी पीछे से आए एक युवक ने उसकी पेंट की जेब पर ब्लेड मारकर जेब से बटूआ और कीमती मोबाईल उडा़ लिया और जब तक उसे पता चला वह भाग निकला। मंगू ने आरोप लगाया है कि घटना की रिपोर्ट लिखाने वह थाने पहुंचा तो पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज करने की बजाए उसे जमकर फटकार लगाई। बाद में उसके द्वारा पुलिस से गुहार लगाने पर पुलिस ने लूट की वारदात को केवल मोबाइल गुमशुदगी में दर्ज किया है। मंगू ने बताया कि उसके पर्स में १५०० रुपये की नकदी थी।

 

इस संबंध में कोतवाली प्रभारी गजेंद्र पाल सिंह का कहना है कि आरोपी के साथ लूट नहीं हुई । उसका मोबाइल कहीं गुम हो गया जिसकी रिपोर्ट दर्ज की गई है। उधर पीडि़त ने खबर के लिए फोटो खींचवाने से मनाकर दिया।

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password