breaking news New

VIDEO: होटल में खाना खाकर पैसे नहीं देती नोएडा पुलिस, उल्टा धमकाती है

गौरव गौड़

नोएडा/ग्रेटर नोएडा: कुछ ऐसे खाकीधारी हैं जो गरीबों को भोजन बांटते हैं लेकिन कुछ ऐसे भी वर्दीधारी हैं जो ढाबों में जाकर पूरी टीम के साथ खाना खाते हैं और जब उनसे खाने के एवज में पैसे मांगे जाते हैं तो होटल के मालिक को ही धमकाया जाता है। ऐसा ही कुछ हुआ है ग्रेटर नोएडा के जेवर थाना क्षेत्र में।

दरअसल, एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। वायरल हो रहे इस वीडियो में जेवर थाना क्षेत्र के एक होटल में स्थानीय चौकी इंचार्ज अपने साथियों के साथ खाना खाते हैं। जब उनसे 20 फीसदी छूट के साथ होटल का संचालक पैसे भुगतान करने को कहता है तो होटल संचालक को पहले दारोगा जी पीटते हैं और फिर गाली गलौज करते हैं। दारोगा जी का इतने से जब मन नहीं भरता है तो वह थाने से पीसीआर की गाड़ी मंगाकर होटल के सामने खड़े कर देते हैं और वहां लोगों को खाना खाने से मना कर देते हैं। सोशल साइट्स पर वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस अधिकारी मामले की जांच की बात कर रहे हैं।

 

मामला 16 अप्रैल की रात्रि का है। सब इंस्पेक्टर सुधीर बलियान जेवर हाईवे पर बने शिव ढाबा पर अपनी पूरी टीम के साथ पहुंचते हैं और खाना खाने के बाद बिना पैसे दिए निकलने लगते हैं। ऐसे में होटल संचालक जब खाने में 20% की छूट करने के बाद पैसे मांगे तो चौकी इंचार्ज बिगड़ गए फिर क्या था लगभग एक घंटे तक हाई वोल्टेज ड्रामा सड़क पर चलता रहा।

होटल संचालक ने जब कैमरे से वीडियो बनाने शुरू करी तो चौकी इंचार्ज सुधीर बालियान ने थाने से पीसीआर बुलवाकर दो गाड़ियां होटल के सामने खड़ी कर यात्रियों को खाना खाने से रोक दिया मामला। बिगड़ता देख होटल संचालक ने जेवर थाना प्रभारी राजपाल तोमर और सीओ जगतराम जोशी को फोन पर सूचना दी लेकिन अगले दिन शिकायत के बावजूद भी चौकी इंचार्ज बदस्तूर अपनी गुंडई दिखाते रहे और होटल संचालक को लगातार धमकाते रहे।

दोनों पक्षों में विवाद होते हुए पूरे मामले की वीडियो बनने के बाद सोशल साइट्स पर वीडियो वायरल कर दिया गया। वीडियो वायरल होने के बाद थाना प्रभारी राजपाल तोमर और चौकी इंचार्ज सुधीर बालियान होटल संचालक पर फैसले का दबाव बना रहे हैं।

सुनीति सिंह (एसपी देहात, नोएडा)

“सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो को देखकर ऐसा प्रतीत हो रहा है कि स्थानीय चौकी इंचार्ज और ढाबा संचालक जोकि जेवर के आस-पास है के बीच बहस हो रही है। मामला मेरे संज्ञान में अभी-अभी आया है। मैने मामले से जुड़े रिपोर्ट क्षेत्रीय अधिकारी से मंगाए हैं। रिपोर्ट आने के बाद ही इस मामले में मैं अपनी प्रतिक्रिया दे पाऊंगी।”-सुनीति सिंह (एसपी देहात, नोएडा)