भारतीय विमानों के लिए आकाश खोलने का फैसला ले सकता है पाकिस्तान

लाहौर। पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद के शिविरों पर 26 फरवरी 2019 को भारत की सर्जिकल एयर स्ट्राइक के बाद से पाकिस्तान अभी तक दहशत में है। भारत के साथ सीमा पर चल रही तनातनी के बीच पाकिस्तान भारतीय विमानों के लिए फिर से अपना एयर स्पेस खोलने की संभावना पर विचार करेगा। नागरिक उड्डयन मंत्रालय के अधिकारी ने 15 मई को इस बाबत बैठक होने की बात कही है। हालांकि, सरकार के वरिष्ठ मंत्री ने भारत में चुनाव होने तक यथास्थिति बरकरार रखना चाहते हैं।

बताते चलें कि 26 फरवरी को भारत की एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान ने अपनी वायुसीमा अन्य देशों के विमानों के लिए पूरी तरह बंद कर दी थी। हालांकि, 27 मार्च को पाकिस्तान ने अन्य देशों के विमानों के लिए अपना आकाश खोल दिया था। मगर, नई दिल्ली, बैंकॉक और कुआलालंपुर से आने वाले विमानों के लिए रोक बरकरार रही।

पाकिस्तान की सिविल एविएशन अथॉरिटी के प्रवक्ता मुस्तफा बेग ने बताया कि 15 मई को होने वाली उच्चस्तरीय बैठक में पाकिस्तान तय करेगी कि भारतीय विमानों के लिए वायुसीमा खोली जाए या नहीं। यह निर्णय भारतीय विमानों के पाकिस्तान में उतरने और ऊपर से गुजरने के लिए होगा। इस बैठक में पाकिस्तान के सभी प्रमुख विभागों के मंत्री भाग लेंगे।

मगर, प्रधानमंत्री इमरान खान के नजदीकी और केंद्रीय विज्ञान और तकनीक विभाग के मंत्री फवाद चौधरी ने कहा है कि भारत में लोकसभा चुनाव होने से पहले पूर्व फैसले में बदलाव की संभावना नहीं है। भारत चुनाव से पूर्व दोनों देशों के रिश्तों में कोई सुधार नहीं होने जा रहा। नई सरकार के रुख को देखने के बाद ही इस पर फैसला किया जाएगा। बताते चलें कि दोनों देशों ने एक-दूसरे के लिए वायुसीमा बंद कर रखी हैं, जिससे दोनों देशों को काफी आर्थिक नुकसान हो रहा है और यात्रियों को भी मुश्किल उठानी पड़ रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed