फ्रांस के चिकित्सक पर 17 मरीजों को जहर देने का आरोप

पेरिस। फ्रांस में एक चिकित्सक पर 17 मरीजों को जहर देने का आरोप लगा है। आरोपित चिकित्सक फ्रेडरिक पेचियर (47) एक एनेस्थेसियोलॉजिस्ट है और उसके खिलाफ जांच शुरू हो गई है। जहर देने के सात मामलों में उसके खिलाफ पहले ही जांच हो चुकी है। इस प्रकार के मामलों में कुल नौ लोगों की मौत भी हो चुकी है।

अभियोजन पक्ष का आरोप है कि पेचियर ने जानबूझकर अपने सहयोगियों के एनेस्थीसिया पाउच के साथ छेड़छाड़ की थी। वह आपात स्थिति पैदा करना चाहता था, जिससे अपनी दक्षता का प्रदर्शन कर सके। पेचियर ने इन आरोपों से इनकार किया। हालांकि, अगर वह दोषी पाया जाता है, तो उसे उम्रकैद हो सकती है। आरोपित के वकील जीन-यवेस ली बोर्गन ने मीडिया को बताया कि जांच में कुछ भी साबित नहीं हुआ है।

उन्होंने कहा कि पेचियर ने उन्हें जहर दिया है, यह सिर्फ एक कल्पना है। बेजंस के पूर्वी शहर में मई 2017 में एक जांच न्यायाधीश ने पेचियर पर जहर देने के लगे आरोपों में से सात की जांच के बाद उसे छोड़ दिया था। हालांकि, उसकी प्रैक्टिस पर रोक लगा दी गई थी।

इस सप्ताह पुलिस ने पेचियर से 66 कार्डिक अरेस्ट के मामलों में पूछताछ की। माना गया कि इन मरीजों को खतरा कम था, लेकिन इन्हें ऑपरेशन के दौरान कार्डिक अरेस्ट का सामना करना पड़ा। इनकी उम्र चार से 80 साल थी। आरोप है कि जब ऐसी घटनाएं होती थीं, तब अक्सर वह ऑपरेशन थिएटर के करीब होता था।

पेचियर ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि इस जांच का चाहे कोई भी निष्कर्ष निकले, लेकिन मेरा करियर खत्म हो चुका है। आप उस चिकित्सक पर विश्वास नहीं कर सकते, जिस पर जहर देने का लेबल लगा हो। मेरा परिवार टूट चुका है और मैं अपने बच्चों के भविष्य को लेकर चिंतित हूं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed